Sangrur News



तंदरूस्त पंजाब मिशन और नशों के खिलाफ संगरूर में बेमिसाल साइकिल रैली आयोजित

posted on :
* संगरूर साइकलाथोन में 7 हजार से अधिक साइकलिस्टों ने हिस्सा लेकर वातावरण की संभाल का दिया आह्वान
* कैबिनेट मंत्री विजैइन्दर सिंगला, डिप्टी कमिशनर थोरी और ऐस.ऐस.पी गर्ग समेत ओर शख़्सियतों ने भी की समूलियत
* राज्य को नशों के कोहढ़ से निजात दिलाकर पंजाब को तंदरुस्त बनाने की मुहिम में हरेक नागरिक योगदान डाले: विजयइंद्र सिंगला
* बच्चों, लड़कियाँ, नौजवानों और बुज़ुर्गों की सक्रिय सम्मिलन के साथ साइकिल रैली हुई उद्देश्य में सफल
संगरूर, (सुभाष भारती):
पंजाब सरकार के तंदरूस्त पंजाब मिशन और नशों के खिलाफ शुरु की मुहिम को घर-घर पहुँचाने के आहवान के साथ संगरूर में हुई साइकिल रेस और साइकिल रैली को बेमिसाल समर्थन मिला। जिला ओलम्पिक एसोसिएशन के बैनर तले हुई साइकिल रैली में 7 हजार से भी अधिक साइकलिस्टों ने हिस्सा लेकर तंदरुस्त पंजाब के निर्माण की तरफ ठोस कदम उठाते हुए भविष्य में इस मुहिम को ओर मज़बूत करने का प्रण लिया।
पुलिस लाईन स्टेडियम में पंजाब के कैबिनेट मंत्री विजयइंद्र सिंगला, डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी और जि़ला पुलिस प्रमुख डा. संदीप गर्ग ने हजारों साइकलिस्टों के इस बड़े काफिले को रस्मी तौर पर झंडी दिखाकर रवाना करने के साथ-साथ खुद भी साइकिल रैली में हिस्सा लिया। यह काफिला संगरूर के अलग-अलग बाजारों में संगीतक धुनें और जयकारों की गूँज में आम लोगों को नशों के खिलाफ एकजुट होने का निमंत्रण देता रहा। प्रदूषण मुक्त वातावरण के लिए बनाई इस मुहिम में हरेक उम्र वर्ग के वातावरण प्रेमियों ने सम्मिलन की जिसमें अलग-अलग सरकारी और प्राईवेट स्कूलों, कालेजों और यूनिवर्सिटियों के विद्यार्थी, जुडिशियल अधिकारी, वकील, डाक्टर, फौज के अधिकारी, सीनियर सिटिजन, खिलाड़ी, बड़ी संख्या में सामाजिक जत्थेबंदियों के अधिकारी, यूथ क्लब, साइकिल एसोसिएशन के अधिकारी और मैंबर समेत आम लोग भी शामिल थे।
साइकिल रेस और साइकिल रैली प्रति लोगों के इकट्ठ को संबोधन करते कैबिनेट मंत्री विजयइन्द्र सिंगला ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से युवा पीढ़ी को दिशा देने के लिए पिछले डेढ़ वर्ष से आरंभ की इस मुहिम का ढिंढोरा पूरे देश तक पहुँचाने की जरूरत है और सरकार की तरफ से डेपो, तंदरुस्त पंजाब मिशन, बड्डी प्रोगराम आदि जैसे अनेकों अहम प्रोग्रामों को उत्साहित करने का एकमात्र मकसद राज्य को नशों के कोहढ़ से निजात दिलाकर पंजाब को तंदरुस्त बनाना माना गया है। उन्होंने बच्चों व नौजवानों को न्योता दिया कि वह एकजुट होकर पंजाब को नशा मुक्त करने की मुहिम को जारी रखते हुए सांझे उपरालों के द्वारा आसपास अपनी सेहत संभाल के लिए जागरूकता पैदा करते रहें। उन्होंने जिला ओलम्पिक एसोसिएशन और जिला प्रशासन को इस बड़े और शानदार उपराले के लिए बधाई दी और साइकलिस्ट की हौसला अफजायी की।
इस मौके संगरूर के नागरिकों का धन्यवाद करते डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी ने कहा कि तंदरूस्त पंजाब के नारे तले 7 हज़ार से भी अधिक साइकलिस्टों ने एक मंच पर एकत्रित होकर मिसाल कायम की और भविष्य में भी ऐसे उद्यम जारी रखे जाएंगे जिससे अधिक से अधिक बच्चों पर नौजवान वर्ग की सम्मिलन वाले खेल समागम और मुकाबले करवाकर नशों के खिलाफ लामबंद किया जा सके। उन्होंने कहा कि राज को सामाजिक बुराईयोंं से मुक्त करने के लिए बच्चों पर नौजवानों को अच्छी सोच पर पहरा देना चाहिए क्योंकि नौजवान पीढ़ी ही साफ-सुथरे वातावरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। 
जिला पुलिस प्रमुख डा. संदीप गर्ग ने कहा कि पूरा सम्मिलन वाला यह समागम यादगारी हो निपटा है जिसमें हरेक साइकलिस्ट ने निजी रूचि के साथ बढ़-चढ कर हिस्सा लिया है।
पुलिस लाईन में टाईमज आफ इंडिया ग्रुप के सहयोग से तैयार की विशेष स्टेज पर लगातार पंजाब के लोकनाच भंगड़े की पेशकारी और अन्य सांस्कृतिक नमूनों के साथ चलती रही जिसका दर्शकों ने भरवाँ आनंद माना। इस दौरान सैलफी कार्नर भी खींच का केंद्र बनते रहे और खेल-प्रेमियों ने प्रमुख शख़्सियतों के साथ उत्साह के साथ तस्वीरों खिंचवाई। इस समागम के लिए राईसीला, एच.डी.एफ.सी बैंक, अवानी, के.आर.बी.ऐल लिमिटेड, संगरूर जि़ला इंडस्ट्रीयल चेंबर, एच.एम स्टील, इंडियन एकरीलिकस लिमिटेड आदि की तरफ से सहयोग दिया गया।
इससे पहले हुई साइकिल रेस में लड़कियाँ और लडक़ों के अलग-अलग उम्र वर्ग के मुकाबले करवाए गए। लड़कियों की रेस बडरुखां फ्लाईओवर से लेकर घाबदां तक और घाबदां से फिर फ्लाईओवर तक थी जबकि लडक़ों के 40 साल से कम और 40 साल से अधिक उम्र वर्ग के अंतर्गत बडरुखां फ्लाईओवर से फग्गूवाला और वापस बडरुखां फ्लाईओवर तक का मुकाबला था। बाद में विजेताओं को कैबिनेट मंत्री सिंगला और डिप्टी कमिशनर थोरी समेत ओर शख़्सियतों ने सम्मानित किया। लड़कियों के वर्ग में प्रदीप कौर को 21 हज़ार रुपए, सर्टिफिकेट और तोहफे के रूप में फिटनेस किट और बूट देकर सम्मानित किया, जबकि दूसरे स्थान पर अलका बांसल को 11 हजार रुपए, तीसरे स्थान पर आने वाली बलजीत कौर को 5100 रुपए और फिटनेस किट देकर सम्मानित किया। इसी तरह हाथों से अपंग होने के बावजूद बुलंद हौंसला रखने वाले जतिन्दरपाल सिंह को विशेष तौर पर सम्मानित किया गया जोकि यह मिसाल पैदा करता है कि यदि मनुष्य की इच्छा शक्ति दृढ़ हो तो कोई भी स्थान हासिल किया जा सकता है। पुरूषों के 40 साल से अधिक उम्र वर्ग में लखजीत सिंह को पहला स्थान आने पर 21 हजार रुपए नगद इनाम, सर्टिफिकेट और फिटनेस किट और बूट, दूसरे स्थान के लिए भूपिन्दर सिंह को 11 हजार रुपए सर्टीफिकेट समेत किट और बूट जबकि तीसरे स्थान पर आने वाले प्रीतइन्दर सिंह को 5100 रुपए सर्टिफिकेट समेत किट देकर सम्मानित किया गया। इसी तरह 40 साल से कम उम्र के लडक़ों की रेस में पहला स्थान राजबीर सिंह को 21 हजार रुपए, सर्टिफिकेट समेत फिटनेस किट, दूसरे स्थान पर लवप्रीत सिंह को 11 हजार सर्टिफिकेट समेत फिटनेस किट जबकि तीसरा स्थान हासिल करने पर पवनप्रीत सिंह को 5100 रुपए, सर्टिफिकेट समेत फिटनेस किट देकर सम्मानित किया।

 
साईकिल रैली में भाग लेते कैबिनेट मंत्री विजयइन्द्र सिंगला, एसएसपी संगरूर डा. संदीप गर्ग, डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी व साईकलिस्ट।

0 0




RECENT POSTS



SEARCH



ARCHIVE



TOPICS










X