Top News


डोमेस्टिक मार्कीट में चावल के भाव घटे-मार्कीट में उथल-पुथल

posted on : Give Ranking : 0 0
(सुभाष भारती):
बासमती चावल में बढ़े भाव पर डोमेस्टिक मार्कीट फिर से घट जाने से स्टीम चावल में 200-300 रूपये का मंदा आ गया है, जबकि सेला में अपेक्षाकृत कम गिरावट है। यूपी-हरियाणा की मिलों में सेला माल कम बन रहा है क्योंकि धान के पडते ऊँचे हैं जिससे जड़ में मंदा नहीं है। 
यद्यपि धान की आवक तरावड़ी, कैथल, टोहाना, कुरूक्षेत्र एवं यूपी के दादरी, दनकौर, शिकोहाबाद, जहांगीराबाद, बहजोई आदि सभी मंडियों में गत वर्ष समान अवधि की तुलना में 50 प्रतिशत हो रही है तथापि पिछले दिनों की आई एक साथ तेजी के बाद मुनाफावसूली बिकवाली आ जाने से राइस मिलों को पडते में स्टाक के माल मिल रहे हैं। दूसरी ओर स्टीम व कच्चे बासमती चावल में डोमेस्टिक मार्केट दो दिनों से 40 प्रतिशत रह गई है जिसके चलते 200-300 रूपये का ओर मंदा आ गया है तथा इन घटे भाव में भी खरीददारी नहीं कर रहे हैं। इसके समर्थन में सेला भी 100 रूपये के अलग-अलग किस्म का घटाकर रिसेलर बेचने लगे हैं। अब सेला व स्टीम चावल का अंतर कम हो गया है। चावल 1121 सेला 7000 रूपये के आसपास बोलने लगे हैं। स्टीम का व्यापार भी 7500 रूपये से ऊपर का नहीं हुआ, हालांकि मिल वाले 7600-7700 रूपये बोल रहे हैं। गौरतलब है कि 1401 एवं 1408 चावल की पकाई अच्छी होने से अधिकतर ट्रेडर्स इनकी ही खरीददारी करने लगे हैं। फलत: 1121 व 1509 किस्म के धान व चावल में थोड़ी खामोशी आ गई है लेकिन मंडियों में धान की इस बार कमी है, जिससे भविष्य में भारी तेजी की संभावना बन गई है।


RECENT POSTS




SEARCH



ARCHIVE



TOPICS










X