Top News


पनसप ने पकड़ी जाली खरीद-आढ़तियों और मिल मालिक के खिलाफ केस दर्ज-मंडी इंस्पेक्टर मुअत्तल

posted on : Give Ranking : 0 0
चंडीगढ़, (सुभाष भारती):
पंजाब के खुराक व सिवल स्पलाई विभाग की तरफ से जाली बिलिंग, जाली खरीद और व्यवस्था की कमियों को दूर करने के लिए विशेष यत्न जारी हैं। इस संबंधी जानकारी देते खुराक औरसिवल स्पलाई मंत्री भारत भूषण आशु ने बताया कि विभाग ने एक बार फिर धान की 86,939 बोरियों की जाली खरीद पकड़ी है जिसकी कीमत 5.6 करोड़ बनती है।
इस संबंधी ओर जानकारी देते मंत्री आशु ने बताया कि सूचना मिली थी कि दूसरे राज्यों से पंजाब की तरफ धान की फ़सल/चावलों की पहुँच होने की हलचल हुई है, जिस संबंधी पनसप और जिला मैनेजरों की 20 नवंबर 2018 को मीटिंग हुई और इस संबंधी उन्हें निजी तौर पर मिलों की तरफ से गई खरीद और मिलों में पड़े स्टाक की फिर से चैकिंग करने की हिदायतें जारी की थी। जिला मैनेजर फिरोजपुर की तरफ से 21 नवंबर 2018 को जीवा अरैया और पंजे के उताड मंडियों में आढ़ती मैस. रीत इंटरप्राईजज़़ जिसके मालिक जसविन्दर सिंह हैं, मैस. जगदीश चंद्र एंड संज जिसके मालिक संदीप कुमार हैं और धु्रव कमीशन एजेंट जिसके मालिक रिशु मुतनेजा हैं की चैकिंग की गई और इनकी तरफ से गई खरीद में कमियां पाई गई। इनकी तरफ से धान की सनराइज राइस मिल जीवा अरैया तहसील गुरूहरसहाये के साथ मिल कर 86,939 बोरियाँ धान की खरीद की गई जिसकी एवज़ के तौर पर 5.6 करोड़ रुपए की रकम ली गई। यह संभावना है कि मिल मालिक की तरफ से यूपी और बिहार से धान की फसल खरीदने का पलाण बनाया गया था जहाँ धान की फ़सल एमएसपी की अपेक्षा बहुत कम दाम पर मिलती है और इसे सीजन दौरान अधिक दाम पर देने का पलान था। इस चावल मिल की जांच पड़ताल के लिए जी. एम. (खरीद) के नेतृत्व में मुख्य दफ़्तर से टीम भेजी गई जिसकी तरफ से जांच दौरान 86,939 धान की बोरियों की शार्टेज पाई गई। जांच टीम की तरफ से यह भी पाया गया कि जसविन्दर सिंह की रीत इंटरप्राईजज़़ की तरफ से जीवा अरैया के हरप्रीत सिंह की ए.एम. इंडस्ट्रीज के साथ बैंक में पैसों का लेने-देन किया गया। यहाँ यह भी बताने योग्य है कि हरप्रीत सिंह मैस. रीत इंटरप्राईजज़़ वाले जसविन्दर सिंह का सगा भाई है। मैस. ए.ऐम. इंडस्ट्रीज की तरफ से यह पैसा आगे ऐस.ऐस. इंडीस्टरीज़, जी.ऐस ट्रेडिंग कंपनी, ऐम.जे. इंडीस्टरीज़, हरप्रीत कौर और अमनदीप को बांटा गया। इस संबंधी बैंकों से ओर जानकारी एकत्रित की जा रही है। पनसप की तरफ से मंडी इंचार्ज हँसा सिंह इंस्पेक्टर को तुरंत प्रभाव के साथ मुअत्तल कर दिया गया। 
मंत्री ने इस संबंधी जानकारी देते बताया कि संबंधित आढ़ती मैस. रीत इंटरप्राईजज़़ के मालिक जसविन्दर सिंह, जगदीश चंद्र एंड सन्नज़ के मालिक सन्दीप कुमार और ध्रुव कमीशन एजेंट के मालिक रिशु मुतनेजा और सन्नराईज़ मिल के मालिक जसमीत सिंह और सबंधित मंडी इंस्पेक्टर हँसा सिंह के खि़लाफ़ एफआईआर दर्ज करवा दी गई है जिसके बाद पुलिस ने जानकारी देते फंडों के आदान प्रदान को लेकर मैस. ए.एम इंडीस्ट्रीज़ के मालिक हरप्रीत सिंह के जो इस केस बीच वाले जसविन्दर सिंह के सगे भाई हैं, को इस केस के साथ जोड़ा गया है और ऐस.ऐस. इंडस्ट्रीज, जी.ऐस. ट्रेडिंग कंपनी, एम.जे. इंडस्ट्रीज, हरप्रीत कौर और अमनदीप की जांच की जा रही है।
यहाँ यह जि़क्रयोग्य है कि खुराक और सिवल स्पलाई विभाग की तरफ से जाली खरीद संबंधित ताज़ा बड़ी कार्यवाही की गई है और अब तक इस सीजन दौरान 5 लाख बोरियाँ धान/चावल की जाली खरीद पकड़ी गई है, जो अपने आप में एक रिकार्ड है।


RECENT POSTS




SEARCH



ARCHIVE



TOPICS










X