Top News


एफसीआई द्वारा चावलों की प्राप्ति 100 फीसदी वेटमैंट के आधार पर की जाएगी: थिंद

posted on : Give Ranking : 0 0
चंडीगढ़, (सुभाष भारती):
पंजाब राइस मिलर्स एसो. का एक वफद फेडरेशन आफ् आल इंडिया व पंजाब राज्य के अध्यक्ष तरसेम सैनी व प्रदेश महासचिव गुरदीप सिंह चीमा की अगवाई में चंडीगढ़ में एफसीआई के जनरल मैनेजर अर्शदीप सिंह थिंद (आईएएस) को मिला। वफद ने जी.एम. को पेश आ रही समस्याओं संबंधी अवगत करवाया तथा अहम बात यह रही कि वफद द्वारा जितनी भी मांगें रखी गईं उसे जी.एम थिंद द्वारा समूची मांगों को प्रवान करते हुए वफद को विश्वास दिलाया कि राइस मिलर्स पंजाब राज्य की प्रमुख इंडस्ट्री है तथा एफसीआई द्वारा राइस मिलरों को किसी तरह की कोई मुश्किल नहीं आने दी जाएगी।
राइस मिलर्स अध्यक्ष तरसेम सैनी व महासचिव चीमा द्वारा एफसीआई जी.एम थिंद समक्ष जो भी मांगें रखी गई उन्हें तुरन्त मानते हुए वफद को विश्वास दिया कि इस बार राइस की डिलीवरी को लेकर किसी भी मिलर्स को कोई दिक्कत नहीं आने दी जायेगी तथा इस बार चावल से लदी गाडिय़ों का वजन डिपूयों में 100 फीसदी वेटमैंट के हिसाब से कर लिया जाएगा, चावलों की कस्टम मिलिंग तुरन्त चालू कर दी जाएगी, इसके लिए किसी भी एजेंसी से कोई मंजूरी लेने की जरूरत नहीं है।
जी.एम. थिंद ने कहा कि सी.जी.एल. लैब का राइस का सैंपल निकलवाने संबंधी सभी डिपूयों में उसका पूरा प्रोफार्मा लगा होगा, शैलर मालिक की समय सिर रिजेकशन की अपील डालने का भी पूरा प्रबंध किया गया है। जी.एम. ने भरोसा दिया कि अधिक से अधिक स्पैशलें लगाकर राइस के लिए अधिक से अधिक जगह बनाई जाएगी, ताकि 31 मार्च तक मिलिंग का कार्य खत्म हो सके। इस बार डिपूयों में डिजीटल नमी मीटर लगाये जाएंगे तथा उसके एक प्रिंट की कापी राइस मिलर्स को दी जाएगी। समय की कमी को पूरा करने के लिए डिपू खोलने का समय सुबह 8 बजे से लेकर 4 बजे तक कर दिया जाएगा। जी.एम. ने भरोसा दिलाया कि एफसीआई का कोई अधिकारी व या फिर टैकनीकल स्टाफ किसी भी राइस मिलर्स के साथ कोई ज्यादति करता है, रिश्वत की मांग करता है या फिर नजायज तंग करता है तो तुरन्त उनके ध्यान में लाया जाए, उसके खिलाफ तुरन्त कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद आल इंडिया राइस मिलर्स व पंजाब के अध्यक्ष तरसेम सैनी ने जी.एम. एफसीआई को विश्वास दिलाया कि समूचे राइस की क्वालिटी में किसी तरह का कोई समझौता नहीं किया जाएगा। राइस मिलरों द्वारा जी.एम. अर्शदीप सिंह थिंद का समूची मांगें मानने पर धन्यवाद किया गया।


RECENT POSTS




SEARCH



ARCHIVE



TOPICS










X