Haryana News


मुख्यमंत्री खट्टर ने चावलों में निर्धारित स्पेसिफिकेशनों में राहत देने के लिए केन्द्रीय मंत्री पासवान को लिखा पत्र

posted on :
चंडीगढ़, (व्यापार समीक्षा संवाददाता):
अक्तूबर माह दौरान बेमौसमी और लगातार बरसात होने के कारण धान की गुणवत्ता प्रभावित होने के चलते हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने केन्द्रीय खाद्य, नागरिक आपूर्ति मंत्री राम विलास पासवान को पत्र लिखकर धान की निर्धारित स्पेसिफिकेशन और मिल्ड चावल यानी टूटे, खराब और बदरंग हुए चावलों में छूट देने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि धान जो निर्धारित स्पेसिफिकेशन के अनुसार खरीदी गई है, लेकिन उसमें से निर्धारित स्पेसिफिकेशन का चावल तैयार नहीं हो रहा। इसकी स्पेसिफिकेशन में 67 प्रतिशत प्राप्ति, 25 प्रतिशत टूटे हुए, 3 प्रतिशत खराब और 3 प्रतिशत बदरंग शामिल हैं। इस प्रकार विकट परिस्थितियों के दृष्टिगत किसानों को उनकी उपज का लाभप्रद मूल्य दिलवाने के लिए उपरोक्त स्पेसिफिकेशन में छूट दी जानी आवश्यक है।
उन्होंने अनुरोध किया कि हरियाणा राज्य को उपज में 67 प्रतिशत से 64 प्रतिशत के अनुपात में और खराब व बदरंग अनाज के संबंध में 3:3 से 5:5 तक तथा टूटे दानों में 25 प्रतिशत से 30 प्रतिशत और बिना किसी मूल्य कटौती के चावल नमी में 0.5 प्रतिशत की छूट दी जाए। उन्होंने कहा कि छूट दिए बिना राज्य के लिए धान मिल्लड करवाना और केन्द्रीय पूल में भारतीय खाद्य निगम को समस्त कस्टम मिल्लड राइस (सीएमआर) प्रदान करना मुश्किल होगा।

0 0






RECENT POSTS



SEARCH



ARCHIVE



TOPICS